Pen Drive Kya Hai और कैसे काम करता है?

friends क्या आप भी जानना चाहते है की Pen Drive क्या होता है और कैसे काम करता है तो आप इस पोस्ट के माध्यम से पेन ड्राइव के बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त कर सकते है।

अगर आप नही जानते हैं की Pen Drive क्या है ? और पेन ड्राइव किसी भी कंप्यूटर या फ़ोन में कैसे काम करता है? आप में से ऐसे बहुत से लोग होंगे जो की इस छोटी सी drive का इस्तमाल करते होंगे अपने documents या flies को एक जगह से दुसरे जगह को आसानी से transfer करने के लिए जी हाँ दोस्तों को मैं इसी छोटे से device के बारे में बताने जा रहा हु जिसे पेन ड्राइव या Flash drive भी कहते हैं।

Pen Drive क्या है ?( What is Pen Drive in Hindi )

Pen Drive एक ऐसा storage Device जिसका इस्तेमाल हम किसी files को transfer करने या store करने के लिए किया जाता है इसको कुछ लोग या बोल चल के सहभा में USB flash drive भी कहा जाता है ये एक portable device है जिसका मतलब है की इसे आसानी से transfer किया जा सकता है एक location से दुसरे location तक इसको ले जाना भी बहुत आसान होता है क्यों की यह साइज़ में किसी लिखने के pen से भी छोटा होता है इसका design बहुत ही अच्छा होता है और ये pen shape का दिखाई पड़ता है इस लिए इसे pen drive भी कहा जाता है और इससे हम किसी भी digital seva के लिए use कर सकते है।

pen drives को पूरी दुनिया में बहुत से कार्यो के लिए इस्तेमाल में लाया जाता है इसके साथ इसने बहुत सारे storage device जैसे की CD DVD Floppy Disk आदि को पूरी तरह से समाप्त ही कर दिया है क्यूं कि ये in सभी से ज्यादा data storing capacity और transferring speed में उनसे ज्यादा है Pen drive या USB flash drives को USB (Universal Serial Bus) Port के द्वारा किसी भी computer या digital device में बहुत आसानी से connect किया जा सकता है जो की computer motherboards पर available होते हैं इस device को external power supply की जरुरत ही नहीं है क्यूं कि यह device हमारे किसी भी usb के द्वारा ही power supply को USB port से ही ले लेते हैंउर बहुत ही आसानी से data transfer हो जाता है।

हमारे अन्य पोस्ट:

Keyboard क्या है ? कितने प्रकार के होते है?

Mouse Kya Hai Aur Kitne Prakar Ke Hote Hai

SSL Certificate क्या है ? और इसका क्या काम है पूरी जानकरी हिंदी में

Pen Drive कैसे काम करता है ?

किसी भी pen drives को classify करते हैं NOT AND या NAND में इन्हें gate-style data storage devices भी कहा जाता है इस technology में data को store blocks के हिसाब से किया जाता है न की randomly ये computers के main memory systems के तरह data को store नहीं करता है जैसे की read only memory (ROM) और random access memory (RAM) में होता है Data को randomly store करने की तुलना में blocks के हिसाब से store करने से ज्यादा information store हो सकता है और वो भी बहुत ही कम समय हो store हो जाता है और जब भी हम उस data को एक जगह से दुसरे जहग पर transfer करते है तो Blocks में होने के वजह से जल्दी transfer हो जाता है।

Pen drive का Structure

Pen drives में एक छोटा सा printed circuit board (PCB) होता है ये circuit board Pen Drive के structure को एक solid base प्रदान करता है और एक medium के तरह काम करता है information collect करने के लिए इसी circuit board में एक छोटा सा microchip लगा रहता है जो की pen drive को data extract करने में मदद करता है ये सारी process को operate होने में low electric power supply की जरुरत पड़ती है अगर हम CD writer या DVD writer और floppy disk की तुलना करें या Technically सोचें तब ये EEP ROMbased होता है जो की computer system में writing और erasure process को एक साथ allow करता है

Author
Hello, I am passionate about blogging and this is my hobby to share information to people that make a sense and work for people to save their time and money and increase their information. I always share here Technology, Make Money Tricks, Mobile, Computer and many Such Information.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *